TV चैनल्स को रोज दिखाना होगा राष्ट्रहित से जुड़ा कंटेंट, सिर्फ 3 तरह के चैनल्स को रहेगी छुट

  
tv channels must 30 minute national intrest content

सूचना और प्रसारण मंत्रालय की ओर से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जिसमे टीवी चैनल्स के लिए नई गाइडलाइन निकाली गई है। अब सभी टेलीविजन चैनल्स को रोजाना तीस मिनट के लिए राष्ट्रीय हित से संबंधित प्रोग्राम दिखाना होगा। सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने अपलिंकिंग व डाउनलोडिंग नियम में चेंज करते हुए यह बड़ा फैसला लिया है। हालांकि स्पोर्ट्स वाइल्ड लाइफ व विदेशी टेलीविजन चैनल को इसके लिए छूट प्रदान की गई है। उनके लिए यह काम अनिवार्य नहीं है बाकी के चैनल के लिए यह काम अनिवार्य है।  सूचना एवम् प्रसारण मंत्रालय जल्द ही इस बारे में सर्कुलर जारी करेगा।

tv channels must 30 minute national intrest content

सुचना एवम् प्रसारण मंत्रालय ने जारी की यह नियम

सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सेक्रेटरी अपूर्व चंद्रा ने चंद दिनो पूर्व मीडियाकर्मी से बात करने के दौरान बताया कि  "हम जल्द ही इस बारे में एक सर्कुलर निकालेंगे लेकिन इससे पूर्व हस सभी स्टेक होल्डर्स से मुलाकात कर इस विषय पर चर्चा भी करेंगे। अपूर्व चंद्रा ने आगे कहा कि इसके प्रसारण की समय क्या होगी इस पर जल्द ही फैसला किया जायेगा।"

tv channels must 30 minute national intrest content

सुचना एवम् प्रसारण मंत्रालय की गाइडलाइन में यह भी कहा गया है कि राष्ट्रीय हित की थीम में एजुकेशन, कृषि, ग्रामीण विकासस्वास्थ्य संबंधी जानकारीमहिला कल्याणपर्यावरण, संस्कृति विरासत जैसे अन्य विषय होंगे। जहा इन विषयों को सभी टीवी चैनल पर रोजाना दिखाया जायेगा। इन गाइडलाइन के अनुसार, टेलिविजन चैनल बिना एयरबेब्स या फ्रीक्वेंसी के ऑपरेट नहीं किया जा सकता है।

tv channels must 30 minute national intrest content

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की गाइडलाइन में यह भी बताया गया है कि सेंट्रल गवर्मेंट राष्ट्रीय हित के कंटेंट के प्रसारित को लेकर टाइम - टाइम पर टीवी चैनल के लिए एडवाइज भी निकाल सकती है। और इन सभी टेलीविजन चैनल को ये सभी नियमों का पालन करना होगा। इसके अलावा किसी भी टेलीविजन चैनल को अपनी लैंग्वेज में चेंज करने के लिए या फिर ट्रांसमिशन मोड को स्टैंडर्ड डेफिनेशन से इसे हाई डेफिनेशन में चेंज करने के लिए किसी भी तरह की पहले से कोई अनुमति नहीं लेनी होगी। केवल इन जानकारियों को देना होगा और इन गाइडलाइन का पालन करना होगा।